Updates
***** Welcome to SUPGB***** ATM Toll Free No-18001807777***** Essay Competition-2 Winners are 1st Place Smt Shreya Rawat, Scale – 1 Officer Branch Sheoraha RO Bijnor, 2nd Place Sh. Virender Kumar Saxena Manager RO Badaun, 3rd Place Sh. Pankaj Bhatnagar Sr. Manager GAD
GMT+5:30 08:17 AM

सर्व यू.पी. ग्रामीण बैंक के मेरे प्रिय साथियों, सर्व यू.पी. ग्रामीण बैंक, जो एक अग्रणी क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक है, के परिवार में योगदान के अवसर पर मुझे गर्व एवं सम्मान की अनुभूति हो रही है । आपके कठोर श्रम, रणनीति एवं सार्थक प्रयासों के फलस्वरूप यह संस्था आज अपने इस वर्तमान स्वरूप में है । आप के अपने कृत प्रयासों के फलस्वरूप अपार सफलता की प्राप्ति पर मैं सभी का अभिवादन करता हॅूं । आपने इस संस्था को अपनत्व एवं लगन से पोषित किया है । मेरे प्रिय मित्रों, मैं अत्यधिक योग्य एवं समर्पित टीम के साथ कार्य करने के अवसर पर स्वयं को गौरवान्वित महसूस कर रहा हॅूं ।

 

 

 

मै पूर्णतः आश्वस्त हॅूं कि हम साथ-साथ चलते हुए अपने लक्ष्य को सहजता से प्राप्त कर सकेंगे तथा हमारी यह यात्रा आकर्षक एवं सुखमय भी होगी । यह वर्तमान समय की माँग के अनुरूप आवश्यक होगा कि हम अपार सम्भावनाओं को पहचानें एवं अपनी ऊर्जा का प्रवाह सही दिशा में सुनिश्चित करें । सही व्यक्तियों के साथ कार्य करके कभी-कभी अत्यन्त साधारण चीजों को भी असाधारण बनाया जा सकता है । मैं पूर्ण विश्वास के साथ आप सभी से यह अपेक्षा करता हॅूं कि पिछले तमाम वर्षों के अनुरूप ही आप इस संस्था के प्रति अपने समर्पण के उच्च स्तर को बनाये रखते हुए मुझे अपना सहयोग प्रदान करेंगे । यंहा अपने योगदान से पूर्व मैं एक शक्तिशाली ब्राण्ड  ‘’पंजाब नैशनल बैंक’’ को अपनी सेवायें दे रहा था । अब मैं आपसे यह आग्रह करता हॅूं कि ‘‘एस.यू.पी.जी.बी.’’ को हम अपने समस्त कार्यक्षेत्र में एक शक्तिशाली ब्राण्ड के रूप में स्थापित करने का प्रयास करें । पिछले तीन वर्षों के दौरान आपके द्वारा लगभग समस्त लक्ष्य प्राप्त किये गये हैं, परन्तु अपने अस्तित्व को बनाये रखने हेतु हमें प्रतिदिन कार्यशील रहना पड़ेगा तथा ऐसे प्रतिस्पर्धात्मक बैंकिंग वातावरण में आगे बढ़ना है, जब नये प्रतियोगी जैसे ‘’ स्मॉल बैंक’’ एवं ‘’भुगतान बैंक’’ उच्च तकनीकि के साथ बाज़ार में आ रहे हैं । हमें अपनी संस्था के लक्ष्यों की प्राप्ति हेतु अपने समर्पण को अधिक सशक्त करना होगा । हमें नये ग्राहक वर्ग एवं सेवाओं पर ध्यान देना होगा । बैंकिंग क्षेत्र में अल्पाधिकार बाज़ार की उपलब्धता समाप्त हो रही है तथा हम एक अधिक प्रतिस्पर्धात्मक वातावरण में प्रवेश कर रहे हैं । बाजार में सभी बैंक लगभग एक ही प्रकार के उत्पादों व अंशतः विभेदित उत्पादों के साथ कार्यरत हैं । इस व्यवस्था में हम बैंकिंग उत्पादों के बेहतर प्रस्तुतिकरण द्वारा लाभान्वित हो सकते हैं । आधार जमा में वृद्धि हेतु हमें नये ग्राहकों के अधिकाधिक संख्या में बचत खाते खोलने होंगे। यंहा यह उचित होगा कि प्रत्येक शाखा प्रत्येक माह न्यूनतम 100 बचत खाते अवश्य खोले जिससे क्षेत्र में उपलब्ध सम्भावनाओं के दोहन से बैंक के वर्तमान अंशदान को 70 प्रतिशत और अधिक बढ़ाया जा सके । पूर्व आवण्टित लक्ष्यों को हमारे द्वारा प्राप्त किया गया । अब समय आ गया है कि हमें अपने पारम्परिक क्षेत्रों के साथ नये क्षेत्रों में आगे बढ़ना होगा । हमारे अग्रिम वर्ग में अधिकांशहिस्सेदारी के.सी.सी. ;अल्पावधिद्ध ऋणों की है । हमें कृषि निवेश ऋणों, एस.एम.ई. एवं खुदरा क्षेत्र में ऋणों की बेहतर सम्भावनाओं की भी तलाश करनी है । मुझो आशा है कि अच्छी प्रस्तुतिकरण की नीति एवं उत्तम ऋण निष्पादन व्यवस्था हमें अपने प्रतियोगियों की तुलना में हमें बेहतर अवसर उपलब्ध करायेंगे । अपनी संस्था को लाभप्रद एवं सशक्त बनाये रखने के लिए हमें अपनी परिसम्पत्तियों पर अधिक ध्यान देना होगा । अपनी परिसम्पत्तियों को उत्पादक / अर्जक श्रेणी में बनाये रखने के लिए हमें सभी स्तरों पर अत्यन्त स्ट्रेटिजिकल प्रयास करने होaगे । हमारे निरन्तर संचार से ऋणियों के साथ हमारा जुड़ाव अधिक सशक्त होगा एवं बैंक को अधिक लाभ की प्राप्ति होगी । मेरा आपसे अनुरोध है कि सभी ऋणियों से लगातार सम्पर्क बनाकर रखें एवं उनको, उनके द्वारा देय राशि से अवगत कराते रहें । हमारे अनियमित खाते हमारे द्वारा ध्यान देने वाले विषय है । प्रत्येक ऋण खाते की गहन निगरानी की जानी परमावश्यक है । वसूली हेतु प्रभावी कम्यूनिकेशन के द्वारा हम वर्तमान अनर्जक आस्तियों को न्यूनतम स्तर पर ला सकते हैं । ग्राहकों को बेहतर सेवायें प्रदान करने हेतु प्रत्येक ग्राहक की विशिष्ट आवश्यकताओं को ध्यान में रखना होगा तथा उनकी निजी अपेक्षाओं को पूर्ण करने हेतु सेवाओं में सुधार एवं बेहतर निष्पादन व्यवस्था, वे कुंजिया है जिनके द्वारा हम अपने समकक्ष बैंको से सफल प्रतिस्पर्धा कर सकते हैं । मित्रों, सदैव ध्यान रखें कि श्रेष्ठता या उत्कर्षता अचानक प्राप्त नहीं होती है, यह उच्च विचार, सच्चे प्रयासों, विद्वतापूर्ण दिशा एवं कुशल कार्यनिष्पादन का परिणाम होती है । मुझे आशा है कि हमारी ग्राहक आधारित पद्धति हमें जमा संग्रहण, ऋण निष्पादन तथा अनियमित एवं अनर्जक खातों में वसूली के बेहतर अवसर प्रदान करेगी । आपको बहुत बहुत धन्यवाद ! ईश्वर आपको एवं आपके परिवार को आशीष दें ।

 

 

शुभकामनाओं के साथ !

 

 

भवदीय

(अनिल कुमार शर्मा)

अध्यक्ष

Click Here For Previous Messages From Chairman

© 2014 Sarva U.P. Gramin Bank. All rights reserved.